फेसबुक पर विदेशी महिला बनकर पहले करते थे दोस्ती फिर मांगते महंगे गिफ्ट, लाखों की लूट वाले तीन अरेस्ट

0 8

 आजमगढ़ :फेसबुक पर विदेशी महिला बनकर लोगों से दोस्ती करने और फिर महंगे गिफ्ट व करोड़ों रूपये देने के बहाने 18 लाख की साइबर ठगी करने वाले गैंग के तीन सदस्यों को पुलिस ने पकड़ा है। साइबर थाना रानी की सराय की टीम ने तीनों को नालंदा बिहार से गिरफ्तार किया है। इसके साथ ही अपराधियों के खातों में पड़े लगभग 11 लाख रुपये फ्रीज करने के साथ ही पांच मोबाइल भी बरामद किया गया है।

सिधारी थाना क्षेत्र के रहने वाले राजेश कुमार ने साइबर क्राइम थाने पर तहरीर दिया कि फेसबुक पर विदेशी महिला लूसी चार्लोट ने दोस्ती कर 25,000 यूके पाउंड व महंगे उपहार देने के नाम पर लगभग 18 लाख रुभपये की साइबर ठगी कर लिया। तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत कर लिया। विवेचना के दौरान बिहार प्रांत के नवादा व नालंदा के रहने वाले पांच अभियुक्तों का नाम प्रकाश में आया। जिसमें सौरभ कुमार निवासी वारिसलिनगंज जिला नवादा बिहार को पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया था। चार अन्य मौके से फरार हो गए थे।

 

First used to make friendship on Facebook as a foreign woman, then asked for expensive gifts, three arrested f
जिनकी गिरफ्तारी के लिए 16 अप्रैल को टीम पुन: बिहार गई थी। इस दौरान रिपेश कुमार निवासी सुंदरपुर थाना कतरी सराय जिला नालंदा, दिलीप कुमार निवासी मायापुर थाना कतरी सराय जिला नालंदा व रौशन कुमार उर्फ़ कारू निवासी ग्राम पांची थाना शेखुपुर सराय जिला शेखपुरा बिहार को गिरफ्तार किया। एक अन्य अभियुक्त रिपांशु कुमार निवासी मिरबिघा चकवे थाना वारिसलिनगंज जिला नवादा बिहार अभी फरार चल रहा है। तीनों को ट्रांजिट रिमांड पर लेकर पुलिस टीम मंगलवार को जिले में पहुंची। प्रभारी निरीक्षक विमल प्रकाश राय ने बताया कि तीनों अभियुक्तों के खातों में मौजूद 11 लाख रुपये को फ्रीज करा दिया गया है। वहीं इनके पास से पांच मोबाइल बरामद किया गया है। फरार साइबर ठग की तलाश में पुलिस टीम जुटी हुई है।
Leave A Reply

Your email address will not be published.