हमले के आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर,उठ रहे पुलिसिया कार्यवाई पर सवाल

The accused of the attack are out of the grip of the police, questions are being raised on the police action
0 11

यूपी की हाईटेक पुलिस अपराधियों के लिए शामत है लेकिन दूसरी तरफ अब भदोही पुलिस पर सवालिया निशान उठना शुरू हो चुकी है बता दे की बीते दिनों भदोही शहर के चौरी रोड पर दिनदहाड़े ‘सत्यम् न्यूज़’ कार्यालय पर किये गए तोड़फोड़ व प्राणघातक हमले में शामिल आरोपियों अभी भी भदोही एसपी के सख्त आदेश के बाद भी सीओ-कोतवाल के हत्थे उपद्रवी नहीं चढ़ रहे हैं। गौरतलब है कि लखनऊ से दैनिक सहित विभिन्न शहरों में प्रकाशित हो रहे ‘सत्यम न्यूज’ के भदोही सीटी कार्यालय पर गत् दिनों योजनाबद्ध तरीके से प्राणघातक हमला किया गया था. हमले के बाद जहां भदोही एसपी डा. अनिल कुमार के आदेश पर मुकदमा दर्ज करके संबंधित थाना ने सिर्फ जांच तेज की, वहीं ‘भदोही सीओ’ भी एसपी के निर्देशानुसार खोजबीन तेज होने का अनौपचारिक दावा कर रहे हैं. फिर भी इसे दुर्भाग्य ही समझिए कि भदोही वासियों की बुलंद आवाज बने मीडिया समूह (सत्यम न्यूज परिवार) को अभी तक भदोही जनपद पुलिस के कर्मठ अधिकारी न्याय नहीं दिला पाएं. करीबन दो दर्जन में से दो-चार उपद्रवियों की भी गिरफ्तारी करके पूछताछ करने में संबधित जांच अधिकारी सफल नहीं हो पाए हैं. फिलहाल भाजपा अनुसुचित जनजाति मोर्चा, भदोही तहसील बार एसोसिएशन, न्यायिक मानवाधिकार परिषद, गोंड महासभा सहित समाजसेवियों ने गिरफ्तारी की मांग करते हुए ‘डीएम साहिबा’ को पत्र सौंपा हैं. इतना ही नहीं बल्कि सैंकड़ों लोगों ने प्रदेश से लेकर भदोही जिले के अधिकारियों को ट्वीट कर आरोपियों के गिरफ्तारी की मांग बुलंद किया हैं. बावजूद अभी तक किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी ना होनें से योजनाबद्ध हमले का रहस्य गहरता जा रहा है. अंतत: इस मामले में भदोही सीओ की सक्रियता व संबंधित जांच अधिकारियों के साथ स्थानीय पुलिस की कर्मठता को लेकर भी सोशल मीडिया पर सवाल उठ रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.