WhatsApp का बड़ा फैसला, हर SMS पर लगेंगे 2.3 रुपये, 1 जून से लागू होगा फैसला

Big decision of WhatsApp, Rs 2.3 will be charged on every SMS, decision will be implemented from June 1
0 39

मेटा ओन्ड WhatsApp की ओर से इंटरनेशनल वन-टाइम पासवर्ड (OTPs) की एक नई कैटेगरी पेश की है। इससे भारत में बिजनेस मैसेज भेजने की कीमत में इजाफा होगा। वॉट्सऐप के इस कदम से कंपनी की कमाई में इजाफा होने की उम्मीद है। इकोनॉमिक्स टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक इंटरनेशनल मैसेज की कीमत पहले से 20 गुना ज्यादा बढ़ गई है। हालांकि आम यूजर्स पहले की तरह फ्री में वॉट्सऐप इस्तेमाल करते रहेंगे। नए फैसले का अगर बिजनेस SMS पर होगा।

देने होंगे 2.3 रुपये प्रति SMS

वॉट्सऐप की नई इंटरनेशनल मैसेज कैटेगरी के तहत प्रति मैसेज में 2.3 रुपये देने होंगे। यह नियम 1 जून से लागू हो जाएगा। इसका असर भारत और इंडोनेशिया दोनों देशों के कारोबार पर देखने को मिलेगा। WhatsApp के नए फैसले से इंटरनेशनल कंपनियों जैसे अमेजन, गूगल और माइक्रोसॉफ्ट का कम्यूनिकेशन बजट बढ़ जाएगा। दरअसल नॉर्मल इंटरनेशनशल वेरिफिकेशन ओटीपी के मुकाबले वॉट्सऐप से वेरिफिकेशन करना सस्ता होता था।

पहले क्या थे रेट

इससे पहले तक लोकल SMS भेजने के लिए टेलिकॉम कंपनियां 0.12 पैसे प्रति SMS चार्ज करती थीं, जबकि इंटरनेशनल प्राइस 4.13 रुपये प्रति SMS था, जबकि वॉट्सऐप की ओर से इंटरनेशनल SMS के लिए 0.11 पैसे प्रति एसएमएस चार्ज किया जाता था, जिसे बढ़कर 2.3 रुपये प्रति SMS कर दिया गया है।

भारत एक बड़ा मार्केट

बता दें कि भारत में एंटरप्राइजेज मैसेज में रैपिड ग्रोथ दर्ज की जा रही है, जिसका मार्केट शेयर करीब 7600 करोड़ रुपये हो गया है। इसमें SMS,पुश मैसेज, ओटीपी वेरिफिकेशन, ऐप्लिकेशन लॉगिन, वित्तीय लेनदेन, सर्विस डिलीवरी जैसे मैसेज शामिल हैं।

 

जियो और एयरटेल को फायदा
WhatsApp SMS चार्ज कम होने की वजह से अमेजन, फ्लिपकार्ट जैसे ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म वॉट्सऐप को बतौर वेरिफिकेशनस और मैसेजिंग टूल इस्तेमाल करते थे, जिसकी वजह से एयरटेल और जियो जैसी कंपनियों को नुकसान हो रहा था। हालांकि नए फैसले के बाद टेलिकॉम कंपनियों को फायदा होने की उम्मीद है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.