किसने लगाया केदारनाथ में पेटीएम स्कैनर, कांग्रेस ने सरकार को फिर घेरा, गरिमा बोलीं- कौन लेगा जिम्मेदारी?

0 13

रुद्रप्रयाग :बदरीनाथ -केदार धाम परिसर में डिजिटल दान के लिए पेटीएम के क्यूआर कोड किसने लगाए, अब इसका पता पुलिस लगाएगी। श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति (बीकेटीसी) की जांच में यह स्पष्ट किया गया है कि समिति की तरफ से धामों में कहीं भी ऐसे क्यूआर कोड नहीं लगाए गए हैं। समिति ने पुलिस को इस संबंध में तहरीर देकर ऐसा करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई करने के लिए कहा है।

बदरीनाथ और केदारनाथ धाम के मुख्य परिसर में क्यूआर कोड के माध्यम से दान लेने का मामला कुछ दिनों से इंटरनेट मीडिया पर चर्चा में है। इस संबंध में रविवार को बीकेटीसी के अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने बताया कि दोनों धाम में कपाट खोलने वाले दिन पेटीएम के क्यूआर कोड लगे पाए गए थे, जिन्हें उसी दिन हटवा दिया गया।

 

इसके साथ ही बीकेटीसी ने इसका संज्ञान लेते हुए अपने स्तर पर जांच कराई, जिसमें सामने आया कि समिति ने कहीं पर भी ऐसे क्यूआर कोड नहीं लगवाए हैं। यह भी स्पष्ट किया गया कि समिति किसी भी तरह के डिजिटल लेनदेन के लिए पेटीएम का उपयोग नहीं करती। इधर, जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने मामले में सख्त कार्रवाई की बात कही है।

 

कांग्रेस ने सरकार को फिर घेरा, गरिमा बोलीं- कौन लेगा जिम्मेदारी?

केदारनाथ और बदरीनाथ मंदिर में दान के लिए लगाए गए क्यूआर कोड कोर्ट लेकर कांग्रेस ने एक बार फिर से सरकार को घेराकांग्रेस प्रवक्ता गरिमा दसोनी ने आरोप लगाते हुए कहा कि बद्री केदार समिति में इससे पल्ला झाड़ लिया है कि केदारनाथ में स्कैनर किसने लगाया। गरिमा ने कहा कि इसकी जानकारी कौन सी संस्था लेगी या कौन व्यक्ति लेगा। गरिमा दसौनीने कहा कि आखिर कौन इसकी जिम्मेदारी लेगा।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.