भाजपा के बागियों ने ही नहीं, अपनों ने भी बिगाड़ा खेल; योगी के इन मंत्रियों के वार्ड में हारे

0 18

नगरीय निकाय चुनाव में भाजपा के बागियों ने पार्टी प्रत्याशियों का खेल बिगाड़ दिया। प्रदेश के कई जिलों में नगर पंचायत अध्यक्ष से लेकर पार्षद तक भाजपा के बागी चुनाव चुनाव जीते हैं। बुलंदशहर में अनूपशहर नगर पालिका पर भाजपा के बागी ब्रजेश गोयल ने करीब चार हजार वोट से जीत दर्ज की है। उन्होंने भाजपा उम्मीदवार ब्रिजेश शर्मा को हराया।



झांसी में एरच नगर पंचायत से अध्यक्ष पद के लिए भाजपा के बागी जयचंद राजपूत ने जीत दर्ज की। वहीं, मोंठ नगर पंचायत से अध्यक्ष पद के लिए भाजपा की बागी मीरा देवी विजयी रहीं।


निकाय चुनाव में टूंडला सीट पर सभी दलों के प्रत्याशियों को पछाड़ते हुए भाजपा के बागी निर्दलीय प्रत्याशी भंवरसिंह ठेकेदार ने नगर पालिका परिषद की सीट पर कब्जा कर लिया। 

उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा के दीपक राजौरिया को 321 मतों से पराजित किया। बागपत की अमीनगर सराय में भाजपा से टिकट नहीं मिलने पर बागी हुई निर्दलीय प्रत्याशी सुनीता मलिक को जीत मिली।


नंदी के वार्ड में भाजपा हारी
योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल नंदी के वार्ड में भाजपा को हार का सामना करना पड़ा। नंदी के वार्ड संख्या 80 मोहित्समगंज में भाजपा से प्रत्याशी विजय वैश्य तीसरे स्थान पर रहे। निवर्तमान मेयर अभिलाषा गुप्ता नंदी ने ठाकुरदीन जूनियर हाईस्कूल में मतदान किया और यहां के दोनों ही बूथों पर भाजपा को शिकस्त का सामना करना पड़ा। यहां भाजपा की बागी कुसुमलता ने चुनाव जीता। कुसुमलता को नंदी खेमे का माना जाता है।

उच्च शिक्षा मंत्री का वार्ड भी हारे
आगरा नगर निगम चुनाव में भाजपा के दिग्गज भी अपनी प्रतिष्ठा नहीं बचा सके। उच्च शिक्षा मंत्री योगेंद्र उपाध्याय, नगर निगम चुनाव के संयोजक विधायक डॉ. जीएस धर्मेश, राज्यसभा सांसद हरद्वार दुबे के वार्डों में भी पार्टी के प्रत्याशी हार गए हैं। इसके साथ ही भाजपा जिलाध्यक्ष गिर्राज सिंह कुशवाहा के पुत्र अमरेश भी चुनाव हार गए।

धाकरान वार्ड 76 में निर्दलीय प्रत्याशी ने चुनाव जीता है। यह उच्च शिक्षा मंत्री योगेंद्र उपाध्याय का वार्ड है। राज्यसभा सांसद हरद्वार दुबे के वार्ड 24 में भी भाजपा की हार हुई है। नगर निगम के चुनाव संयोजक डॉ. जीएस धर्मेश के वार्ड 19, भाजयुमो ब्रज क्षेत्र के महामंत्री गौरव राजावत के वार्ड में भी पार्टी प्रत्याशी की हार हुई है।

यहां तक कि जिलाध्यक्ष गिर्राज सिंह कुशवाह के पुत्र अमरेश ने नगला पदी वार्ड नंबर 73 से चुनाव लड़ा था। वह भी चुनाव हार गए। यहां बसपा प्रत्याशी जीता है। लखीमपुर खीरी में भाजपा की बागी निर्दलीय प्रत्याशी डॉ. इरा श्रीवास्तव ने भाजपा की पुष्पा सिंह को हरा दिया।

उद्यान राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार दिनेश प्रताप सिंह के गृह जिले रायबरेली में भी भाजपा की हार हुई है। कांग्रेस की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली नगर पालिका परिषद में अध्यक्ष पद पर कांग्रेस के शत्रोहनलाल सोनकर चुनाव जीते हैं। चिकित्सा राज्यमंत्री मंयकेश्वर शरण सिंह के निर्वाचन क्षेत्र तिलोई की नगर पालिका जायस में भी भाजपा की हार हुई है। मयंकेश्वर सिंह ने जायस में कई दिनों तक प्रचार भी किया था।

माध्यमिक शिक्षा राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार गुलाब देवी के गृह जिले संभल की तीन में से दो नगर पालिका में भाजपा की हार हुई है। गुलाब देवी के संसदीय क्षेत्र की चंदौसी नगर पालिका में निर्दलीय प्रत्याशी लता ने चुनाव जीता है। संभल नगर पालिका परिषद में एआईएमआईएम ने चुनाव जीता है। समाज कल्याण मंत्री असीम अरुण के निर्वाचन क्षेत्र कन्नौज, राज्यमंत्री बलदेव सिंह औलख के रामपुर नगर पालिका परिषद में भी भाजपा की हार हुई है।
Leave A Reply

Your email address will not be published.