कोमल हत्याकांड:शादी के दिन दुल्हन की हत्या: जहां पहली बार मिले, वहीं किया कोमल का कत्ल, मंगेतर बोला- मुझे अफसोस नहीं, जो…

0 31
लखनऊ में कोमल हत्याकांड में पुलिस की तफ्तीश में बड़ा खुलासा हुआ। कुकरैल जंगल में जिस जगह पर राहुल पहली बार कोमल से मिला था, उसी जगह पर उसको मौत के घाट उतारा। उधर, पुलिस ने बुधवार को डॉक्टरों के पैनल से कोमल के शव का पोस्टमार्टम कराया। डीएनए सैंपल भी सुरक्षित किया गया है। चूंकि पांच दिन तक शव जंगल में पड़ा रहा था लिहाजा पूरी तरह से सड़ चुका था।

पुराना महानगर घोसियाना मोहल्ला निवासी कोमल कश्यप की चार मई को मूलरूप से रायबरेली निवासी राहुल कुमार से शादी थी। उसी दिन सुबह कोमल ब्यूटी पार्लर जाने की बात कहकर घर से निकली और लापता हो गई थी।

पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर जब जांच की तो मंगलवार को उसके मंगेतर राहुल को पकड़ा। राहुल की निशानदेही पर कुकरैल के जंगल से शव बरामद किया था। बुधवार को पूछताछ के बाद पुलिस ने राहुल को कोर्ट में पेश किया, जहां से जेल भेजा गया।

पूछताछ में राहुल ने बताया कि तीन साल पहले फेसबुक के जरिये कोमल से दोस्ती हुई थी। कुछ महीने बाद दोस्ती प्यार में बदल गई थी। पहली बार वह कोमल से कुकरैल के जंगल में ही मिला था। लगभग उसी जगह पर, जहां पर उसको मौत के घाट उतारा।

मुझे अफसोस नहीं, जो होना था हो गया

राहुल ने बताया कि वह कोमल के साथ रिलेशनशिप में था, लेकिन शादी नहीं करना चाहता था। जब उसने रिलेशनशिप के बारे में घरवालों को बताया था तो वह भी शादी के लिए राजी नहीं हुए थे। इसलिए उसी दिन ठान लिया था कि उससे शादी नहीं करेंगे। पर, कोमल व उसके परिवार वाले दबाव बनाते रहे।

इस कारण वह तैयार हो गया। हालांकि इस बारे में उसने अपने घरवालों को नहीं बताया था। वारदात के बाद भी परिजन राहुल से मिलने नहीं पहुंचे। राहुल ने पुलिस से कहा कि उसको कोई अफसोस नहीं, जो होना था वह हो गया।

एक बार पहले भी मारने की रची थी साजिश
पुलिस की पूछताछ में सामने आया कि राहुल कुछ दिन पहले भी कोमल को लेकर कुकरैल गया था। तब भी वह उसको मारने के इरादे से ले गया था। जब वह वहां पहुंचा था तब कुछ लोग वहां से गुजरे थे। उनकी नजर दोनों पर पड़ गई थी। इसलिए वह डर गया था। उस दिन वारदात को अंजाम नहीं दिया था।

मुझे अनहोनी की आशंका थी
कोमल की हत्या से परिजन बेहाल हो गए हैं। उनकी मां ने कहा कि चार तारीख की सुबह जब कोमल घर से जा रही थी तो मैंने उससे कहा था कि कंगन बंध चुका है। इसके बाद शादी तक घर से बाहर नहीं जाया जाता, लेकिन कोमल नहीं मानी थी। तब मुझे अनहोनी की आशंका थी। जब वह नहीं लौटी थी तो गलत होने का अहसास हो गया था। वही हुआ भी।
Leave A Reply

Your email address will not be published.