भ्र्ष्ट एई प्रशांत सेमवाल के काले कारनामो की खुली पोल,गलत तरीके से किया फाइल पास !

Dark exploits of corrupt AE Prashant Semwal exposed, file passed wrongly
0 73

ब्यूरो रिपोर्ट -विपुल पाण्डेय

 

देहरादून के मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण से भ्र्ष्ट एई प्रशांत सेमवाल के खिलाफ लगातार मामले उजागर हो रहे है लेकिन बड़ी बात है उनको संरछण देने वाले विभाग के ही कुछ लोग है जिनका संरछण सेमवाल को मिल रहा है। ऐसा हम नहीं कह रहे है बल्कि अबतक कोई कार्यवाई ना होने से लोगो में  नाराजगी और सेक्टर तक ना हटाना इसमें शामिल है। दरसल ताजा मामला प्रशांत सेमवाल से जुड़ा है जिसने एमडीडीए में भ्र्ष्टाचार की खुली गंगा बहा रखी है लेकिन अधिकारियों का संरछण मिला है मिले भी क्यों न चोर चोर मौसेरे भाई जो है एक भ्र्ष्टाचारी बैठा है तो दुसरा उसका सहयोगी जो बैठा है जानकरी के लिए आपको बता दे की मुख्यमंत्री पोर्टल में हुई एक शिकायत के क्रम में एक फ़ाइल हमारे हाथ लगी है जिसमे की फाइल न0-OC-116/21-22 और फ़ाइल गोपल शर्मा के नाम पर पंजीकृत है। इस फाईल में नियमों के हिसाब से जितनी रोड की जरूरत थी उससे आधी में ही इसकों पास कर दिया गया है जबकि ऐसे कोर्मशियल निर्माणों के लिए मौके पर रोड होना बहुत जरूरी होता है। लेकिन आरोप है की एई ने मोटा पैसा लिया ओर गलत तरिके से अधीक्षण अभियंता की मिलीभगत से फाईल पास कर दी। इस नक्शे में तो साईड सैट बैक को भी रियर लिखा गया है। इसके अलावा विशेष्ज्ञो से बात करने पर पता चला की इस फ़ाइल में  कमियॉ बहुत है और इस फाईल में एई ने भी गलत कर रखी है। जिसे देखा नही गया है और फाईल पास करते समय ऑखे बन्द कर ली गई थी। सीएम हेल्पलाइन में शिकायत में साफ़ तौर पर इस फाईल की जॉच उच्च स्तर से कराए जाने और  भ्रष्ट एई के खिलाफ उचित कार्यवाही करते हुए इनको ऐसे गलत फाईल पास करने पर दण्ड  करने की मांग की गयी है , बता दे की प्रशांत सेमवाल के भ्र्ष्टाचार के किस्से इन दिनों एमडीडीए में चर्चा का विषय बना हुआ है लेकिन अधिकारी उसपर हाथ डालने से डरते नजर आ रहे है जल्द एक और बड़े खुलासे के साथ पढ़िए भ्र्ष्टाचार की गंगा बहाने वाले एमडीडीए के एई प्रशांत सेमवाल के काले करतूतों की अगली दांस्ता….

Leave A Reply

Your email address will not be published.