दिल के अरमां आंसुओं में बह गए: जयमाला के बाद मंडप से प्रेमी संग फुर्र हुई दुल्हन, दूल्हा करता रह गया इंतजार

0 119

संतकबीरनगर के बखिरा इलाके के एक गांव में रविवार की रात आई बरात में जयमाला के बाद मंडप से दुल्हन अपने गांव के प्रेमी के साथ भाग गई। शादी की रस्म के लिए दुल्हन ढूंढीसंतकबीरनगर के बखिरा इलाके के एक गांव में रविवार की रात आई बरात में जयमाला के बाद मंडप से दुल्हन अपने गांव के प्रेमी के साथ भाग गई। शादी की रस्म के लिए दुल्हन ढूंढी जाने लगी, लेकिन दुल्हन नहीं मिली। बिना शादी के ही रात में बरात लौट गई। इस मामले में सोमवार को पीड़ित भाई ने आरोपी प्रेमी के खिलाफ केस दर्ज कराया। जाने लगी, लेकिन दुल्हन नहीं मिली। बिना शादी के ही रात में बरात लौट गई। इस मामले में सोमवार को पीड़ित भाई ने आरोपी प्रेमी के खिलाफ केस दर्ज कराया।बखिरा क्षेत्र की रहने वाली 21 वर्षीय युवती की शादी उसके परिजनों ने बेलहर क्षेत्र के एक गांव में तय की थी। शादी की निर्धारित तिथि रविवार की देर शाम बरात पहुंची। जयमाला का कार्यक्रम संपन्न हुआ। शादी के रस्म की तैयारी चल रही थी। रात दो बजे दुल्हन मंडप से किसी बहाने निकली और फिर गांव के प्रेमी के साथ फरार हो गई।

इधर शादी के लिए लड़की वाले दुल्हन की तलाश करने लगे, लेकिन दुल्हन घर में नहीं मिली। इस बात की जानकारी जब दूल्हा पक्ष को हुई तो लोग तरह-तरह की बातें करने लगे। दुल्हन के नहीं मिलने से शादी का रस्म संपन्न नहीं हो पाई।

रात में ही बराती पक्ष के लोग दूल्हे को लेकर बिना शादी के ही अपने गांव चले गए। इधर सोमवार को दुल्हन के भाई ने बखिरा पुलिस को तहरीर दी, जिसमें आरोप लगाया कि उसकी बहन गांव के युवक से बातचीत करती थी।

आरोप है कि वही युवक अपने प्रेमजाल में फांस कर उसकी बहन को बहला फुसला कर भगा ले गया। पीड़ित भाई ने बहन को ढूंढने और आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की।

एसओ श्याम मोहन ने बताया कि आरोपी युवक के खिलाफ दुल्हन को भगाने और एससी-एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया गया है। सूचना मिली कि आरोपी युवक मुंबई रहता था। सोमवार को आरोपी युवती को लेकर मुंबई जा सकता है।

उसी के आधार पर खलीलाबाद और बस्ती रेलवे स्टेशन पर पुलिस कर्मियों को लगाकर मुंबई जाने वाली कुशीनगर और बांद्रा एक्सप्रेस ट्रेनों की चेकिंग कराई गई, लेकिन दोनों का पता नहीं चला। दोनों की तलाश जारी है।
Leave A Reply

Your email address will not be published.