पुलिस ने चरस तस्कर को किया गिरफ्तार, आरोपी से लाखों की कीमत की अवैध चरस बरामद  

0 42

लालकुआं: कोतवाली पुलिस ने मुखबिर की सटीक सूचना पर एक चरस तस्कर को गिरफ्तार किया | उसके पास से एक किलो तीन सौ 90 ग्राम चरस तथा एक लाख दो हजार नौ सौ पांचस रूपए व मोबाइल बरामद हुए पकड़े गए | आरोपी के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज कर न्यायालय में पेश किया| जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।

यहां मामले का खुलासा करते हुए पुलिस क्षेत्राधिकारी अभिनय चौधरी ने बताया कि प्रभारी निरीक्षक डी.आर.वर्मा अपनी एडीटीएफ टीम के साथ बिन्दूखत्ता चौकी क्षेत्र से सटे गांधीनगर प्रथम बिन्दूखत्ता पर चैकिंग कर रहे थे| इसी दौरान पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि एक युवक अपने घर से भारी मात्रा में चरस बेच रहा है | जिसके बाद पुलिस ने उक्त स्थान पर चैकिंग कि गई| जहां पर पुलिस को एक युवक अपने घर ‌पर चरस बेचता मिला जो पुलिस टीम को देखकर भागने लगा जिसपर पुलिस टीम ने तुरंत ही उसे पकड़ लिया।

जांच करने पर उसके पास से एक किलो तीन सौ 90 ग्राम चरस तथा एक लाख दो हजार नौ सौ पांचस रूपए व एक मोबाइल बरामद हुआ। वही पूछताछ करने पर आरोपित ने अपना नाम राजेन्द्र सिंह बोरा उर्फ राजू पुत्र धन सिंह बोरा निवासी गांधीनगर प्रथम बिन्दूखत्ता थाना लालकुआं बताया। आरोपित ने बताया कि वह उत्तर प्रदेश से चरस खरीदकर बिन्दूखत्ता के आसपास के क्षेत्रों तथा युवाओं को बेचता है|

वहीं पुलिस क्षेत्राधिकारी अभिनय चौधरी का कहना है कि मादक पदार्थों की तस्कारी के नेटवर्क से जुड़े राजेंद्र सिंह बोरा से अन्य साथियों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है| साथ ही चरस कहा से मंगाया करता था इसकी भी छानबीन की जा रही है| उन्होंने कहा कि पकड़े गए आरोपी के खिलाफ पुर्व में एनडीपीएस एक्ट तथा शराब तस्करी के मुकदमे दर्ज हैं| उन्होंने कहा कि उसके अन्य आपराधिक मामले कि खंगाले जा रहे हैं| उन्होंने कहा कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट ने चरस पकड़ने वाली पुलिस टीम को 5 हजार रुपए इनाम देने की घोषणा की है।

इधर पुलिस टीम में मुख्य रूप से एडीटीएफ के उपनिरीक्षक सोमेन्द्र सिंह, उपनिरीक्षक वंदना चौहान, कांस्टेबल आनंदपुरी,दयाल नाथ, चन्द्रशेखर,कमल बिष्ट, महिला कांस्टेबल जया राणा, प्रियंका शाही शामिल रहे। वही पकड़े गए आरोपित को न्यायालय भेजा गया वहां आवश्यक कार्यवाही के बाद उसे जेल भेज दिया गया।

उमेश पंत..

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.