मंदिर में शादी, फिर किया निकाह…धर्म बदलकर नैना से रेशमा बनी लड़की के खौफनाक अंजाम की खूनी कहानी..

0 253

Rajasthan: रेशमा उर्फ नैना मंगलानी, उम्र 22 साल 19 जनवरी 2020 को पति अयाज अहमद अंसारी के साथ स्कूटी से घर से निकली। उसे उम्मीद थी कि शायद अब उसके और अयाज के बीच सब कुछ ठीक हो जाएगा, लेकिन इस उम्मीद के साथ घर से निकली नैना धोखे और खूनी साजिश का शिकार हो गई।

वह फिर कभी वापस घर नहीं आई, परिजनों ने उसे कई बार कॉल किया, लेकिन हर बार उसका फोन बंद आया। घर में दो महीने के बच्चे को छोड़कर गई नैना देर रात तक वापस नहीं लौटी तो उसके परिवार वालों की चिंता और बढ़ गई। उन्होंने नैना की तलाश शुरू की, उसके दोस्तों और आसपास के रिश्तेदारों से पता किया गया, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला।

परिजनों ने उसके पति अयाज को कॉल किया तो उसने भी जानकारी होने से मना कर दिया। कोई और रास्ता नहीं दिखने पर नैना के परिवार वाले थाने पहुंचे और उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। किसी पर शक होने के सवाल पर परिजनों ने पुलिस को अयाज का नाम बताया, क्योंकि नैना उसी के साथ घर से निकली थी।

नैना राजस्थान के जयपुर के आमेर की रहने वाली थी। उसका परिवार एक प्रतिष्ठित परिवार था। ऐसे में पुलिस भी तत्काल सक्रिय हो गई। नैना की तलाश के लिए एक टीम बनाई गई और सबसे पहले उसके पति अयाज को पूछताछ के लिए बुलाया गया। अयाज ने पुलिस को बताया कि वह खुद नैना के लिए परेशान है, जगह-जगह उसकी तलाश कर रहा है।

अगले दिन 21 जनवरी की सुबह आमेर पुलिस को सूचना मिली कि जयपुर-दिल्ली नेशनल हाइवे पर स्थित माता मंदिर के पास एक युवती की लाश पड़ी है। पहचान छिपाने के लिए उसका चेहरा बुरी तरह कुचला गया था। लेकिन, परिजनों की पहचान के बाद ये साफ हो गया कि ये लाश किसी और की नहीं, बल्कि नैना की ही थी। बेटी का शव मिलने के बाद नैना के पिता ने अयाज के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया। जिसके आधार पर पुलिस ने मामले की जांच शुरू की।

फेसबुक के जरिए मिले अयाज के साथ मंदिर में शादी और फिर धर्म बदलकर निकाह करने वाली नैना उर्फ रेशमा अब इस दुनिया में नहीं थी। पुलिस के सामने 22 साल की नैना की लाश थी और खूनी साजिश के पीछे छिपे कुछ सवाल। आइए, अब नैना से रेशमा बनी इस लड़की के कत्ल की कहानी सिलसिलेवार तरीके से जानते हैं…

Leave A Reply

Your email address will not be published.