Kidney Stones: बिना ऑपरेशन और दर्द के किडनी की पथरी बाहर निकालती हैं ये दवा

Kidney Stones: This medicine removes kidney stones without operation and pain.
0 73

गुर्दे की पथरी या किडनी की पथरी (Kidney Stones) एक दर्दनाक समस्या है जो किसी को भी प्रभावित कर सकती है। मेडिकल भाषा में इसे नेफ्रोलिथियासिस (Nephrolithiasis) या यूरोलिथियासिस (Urolithiasis) भी कहा जाता है। दरअसल किडनी की पथरी खनिज और लवणों से बने कठोर पदार्थ होते हैं। खराब खानपान, शरीर का अधिक वजन, कुछ बीमारियां और सप्लीमेंट व दवाएं गुर्दे की पथरी का कारण (Kidney Stone cause) बनते हैं। गुर्दे की पथरी आपके मूत्र पथ के किसी भी हिस्से को प्रभावित कर सकती है। अक्सर, पथरी तब बनती है जब मूत्र गाढ़ा हो जाता है, जिससे मिनरल्स क्रिस्टल हो जाते हैं और आपस में चिपक जाते हैं।

गुर्दे की पथरी एक दर्दनाक समस्या है। अगर समय पर इसकी पहचान हो जाए, तो पथरी आमतौर पर कोई स्थायी नुकसान नहीं पहुंचाती है। किडनी पथरी के मरीजों को पथरी को दूर करने के लिए दर्द की दवा लेने और ढेर सारा पानी पीने की सलाह दी जाती है। अगर पथरी मूत्र पथ में जमा हो जाती है, तो उससे मूत्र संक्रमण से जुड़ी जटिलताएं पैदा हो सकती हैं, जिसमें सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है।

किडनी की पथरी के लक्षणों (Kidney stones symptoms) में पसलियों के नीचे, बाजू और पीठ में तेज दर्द होना, दर्द जो निचले पेट और कमर तक फैलता है, दर्द जो लहरों में आता है और तीव्रता में उतार-चढ़ाव करता है, पेशाब करते समय दर्द या जलन महसूस होना, गुलाबी, लाल या धुंधला भूरे रंग का पेशाब आना, पेशाब से बदबू आना, पेशाब करने की लगातार आवश्यकता होना, सामान्य से अधिक बार पेशाब करना या कम मात्रा में पेशाब आना, मतली और उल्टी, संक्रमण होने पर बुखार और ठंड लगना आदि शामिल हैं।

किडनी की पथरी को जड़ से निकाल फेंकने के लिए होम्योपैथिक दवाइयों का सेवन फायदेमंद है। बिना किसी नुकसान के होम्योपैथिक दवाइयां पथरी को घोल देती हैं। पथरी में होम्योपैथिक दवाइयों का सेवन करने से आपको दो बड़े लाभ मिलते हैं। होम्योपैथिक दवाइयों का सेवन करने से पथरी का आकार छोटा होता जाता है या फिर पथरी कई टुकड़ों में बंट जाती है। इससे स्टोन आसानी से शरीर के बाहर निकल जाते हैं। पथरी को ठीक करने के लिए अगर एक बार होम्योपैथिक दवाइयों का सेवन कर लिया जाए तो भविष्य में दोबारा किडनी स्टोन होने का खतरा कम हो जाता है।होम्योपैथिक दवाइयों का सेवन करने के बाद पथरी के दर्द से तुरंत राहत मिलती है। एक या दो हफ्ते में पथरी भी पूरी तरह से गायब हो जाती है। यह दवाइयां हमारे शरीर के इम्यूनिटी सिस्टम के साथ कार्य करती हैं जिससे किसी तरह का साइड इफेक्ट्स नहीं होता है। होम्योपैथिक दवाइयां रोगी को बहुत कम मात्रा में दी जाती हैं और इनकी लत भी नहीं लगती है। अगर समस्या जटिल नहीं है और सर्जरी की आवश्यकता नहीं है तो होम्योपैथिक दवाइयों से ही पथरी का इलाज किया जाता है। बता दे की पथरी के लिए बर्नेट होम्योपैथी का Stone Hammer Tablet

और Burnett Homeopathy Stone Hammer Syrup

बहुत ही लाभदायक होता है इसका रिजल्ट महज कुछ ही दिनों में दिखने लगता है और मरीज का पथरी बड़ी ही आसानी के साथ निकल जाता है , अधिक जानकारी के लिए कृपया डॉक्टर सलाह ले  यहां क्लिक करे   

Leave A Reply

Your email address will not be published.